जल्द ही एक सुपरनैचुरल सीरीज के साथ सामने आ रहा है। इस शो का नाम ‘दहन- राकन का रहस्य’ है। इस शो में टिस्का चोपड़ा एक आईएएस अधिकारी की भूमिका में हैं। ये सदियों पुराने मिथकों और अंधविश्वास की एक डार्क स्टोरी है।

इस सीरीज को विक्रांत पवार द्वारा निर्देशित किया है, जबकि इस निसर्ग मेहता, शिवा बाजपेयी और निखिल नायर ने लिखा। इस सीरीज में शिलासपुरा के एक विचित्र, देहाती गांव में असाधारण घटनाएं होती हैं, जिसे ‘द लैंड ऑफ द डेड’ भी कहा जाता है। बनिजय एशिया, दीपक धर और ऋषि नेगी द्वारा निर्मित ये सीरीज 16 सितंबर को रिलीज होगी।

इस पूरी सीरीज में नौ-एपिसोड दिखाए जाएंगे। इसमें राजेश तैलंग, मुकेश तिवारी, सौरभ शुक्ला, अंकुर नैयर, रोहन जोशी, लहर खान जैसे कलाकार भी शामिल हैं। यह शो समाज और उसकी मान्यताओं को छूता है और किरदारो को उनके गहरे और भयानक डर का सामना करने की चुनौती देता है।

इसकी कहानी वहां से शुरू होती है जब एक माइनिंग एक्सपीडिशन से गांव के लिए खतरा पैदा हो जाता है, जिसके बारे में अनुभवी लोगों का कहना है कि नुकसान होने पर यह एक बड़े अभिशाप के रूप में सामने आ सकता है। लेकिन एक आईएएस अधिकारी सदियों पुराने अंधविश्वासों से लड़ने के लिए एक मिशन पर निकल पड़ती है, जो रहस्यमय हत्याओं और गायब होने के कारण गांव को दबा देता है। राजस्थान के बीहड़ लोकेशन्स में शूट की गई ये कहानी शापित गुफाओं, छिपे हुए खजाने और पीढ़ीगत रहस्यों के साथ सभी को चौंका देती है।

इस पर बात करते हुए निर्देशक विक्रांत पवार ने कहा, दहन-राकन का रहस्य के साथ, हम एक ऐसा शो बनाने के लिए निकल पड़े हैं, जहां दर्शकों को यह अनुभव होगा कि कैसे लोगों के मन में डर पैदा करने के लिए पौराणिक और सुपरनैचुरल एलीमेंट्स एक साथ आ सकते हैं। किरदारों और प्लॉट्स के अलावा, इस सुपरनैचुरल थ्रिलर के रहस्यवादी सार में योगदान करने के लिए मिस-एन-सीन का भी इस्तेमाल किया गया था।

इस सीरीज में आईपीएस ऑफिसर का रोल प्ले कर रहीं टिस्का चोपड़ा ने कहा, मुझे दहन-राकन का रहस्य के बारे में सबसे ज्यादा यह पसंद है कि यह कैसे डर को पकड़ लेता है क्योंकि हर किरदार चरित्र अपने अंदर के राक्षसों का सामना करता है। अवनि राउत, मेरा किरदार, व्यक्तिगत और पेशेवर लड़ाई लड़ता है, जब वह सुपरस्टीशन और सुपरनैचुरल और रेजिन और प्रैक्टिकैलिटी के क्रॉसफायर में फंस जाती है। यह शो अवनि राउत के कैरेक्टर को उसके बाहरी और अंदर के डर के बीच समानताएं के साथ एक खोज पर ले जाता है, जिसका हम सभी सामना करते हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.